Dard Bhari Shayari In Hindi ! दर्द भरी शायरी हिंदी में

दर्द भरी शायरी फोटो


JokesShayari.com के इस पोस्ट में आपका स्वागत है। इस पोस्ट में हमने खास "दर्द भरी शायरी हिंदी में" लेकर आए हैं। मेरे कहने का मतलब "दर्द भरी शायरी स्टेटस"
आप इसे "Dard Bhari Shayari In Hindi" भी कह सकते है.
मुझे पक्का यकीन है आपको जरूर पसंद आएगा। आपको पसंद आये तो आप "दर्द भरी शायरी स्टेटस"  को Whatsapp, facebook, Twitter,  पर शेयर जरूर करे.

Dard Bhari Shayari In Hindi


तुम्हारे एक लम्हें पर भी, मेरा हक नहीं...!!! ना जाने तुम किस हक से, मेरे हर लम्हें में शामिल हो...!!!


"हर कोई "मुझे" जिंदगी जीने का तरीका" बताता है, "उन्हें" कैसे समझाऊँ की "कुछ ख्वाब अधुरे" हैं वर्ना जीना मुझे भी आता है।

दर्द भरी शायरी डाउनलोड इमेज

दर्द भरी शायरी डाउनलोड इमेज

"काश की कयामत के दिन हिसाब हो सब बेबफाओ का, और वो मुझसे लिपट कर कहे की मेरा नाम मत लेना !!"


कल तुम्हे फुरसत ना मिली तो क्या करोगे, इतनी मोहलत ना मिली तो क्या करोगे, रोज़ कहते हो कल बात करेंगे, कल हमारी आँखें ही ना खुली तो क्या करोगे।

दर्द भरी शायरी स्टेटस


खोए हुए आंसुओं से मोहब्बत मुझे भी है, तेरी तरह ज़िन्दगी से शिकायत मुझे भी है, तू अगर नाज़ुक है तो पत्थर मैं भी नहीं, तन्हाई में रोने की आदत मुझे भी है...


मुझको रूला कर दिल उसका भी रोया होगा, उसकी आंखों पर भी आंसू तो आया होगा, अगर न किया कुछ हासिल हमने प्यार में, कुछ न कुछ उसने भी तो खोया होगा...।

दर्द भरी शायरी इन हिंदी


मेरा जमीर मुझसे हर रोज कहता है मत देख अपने हाथों की लकीरों को, वो तब भी तेरी नहीं थी जब उसका हाथ तेरे हाथ में था।


मुझे उदास देख कर उसनेे कहा मेरे होते हुए तुम्हें कोई दुःख नहीं दे सकता, फिर ऐसा ही हुआ जिंदगी में जितने दुःख मिले सब उसी ने दिये।

दुनिया की सबसे दर्द भरी शायरी


जब याद आती है मुस्कुरा लेते हैं, कुछ पल हर गम भुला देते हैं, कैसे भीग सकती हैं उनकी पलकें, उनके हिस्से के आंसू जो हम बहा लेते हैं।


कभी-कभी सपने चूर हो जाते हैं, हालात से लोग दूर हो जाते हैं, पर कुछ यादें इतनी हंसीन होती हैं कि, उन्हें याद करने को हम मजबूर हो जाते हैं 💔💔💔💔

दर्द भरी शायरी हिन्दी मेँ


मंज़िल भी नहीं, ठिकाना भी नहीं, वापस उनके पास जाना भी नहीं, मैंने ही सिखाया था उन्हें तीर चलाना और अब,💘 मेरे सिवा उनका कोई निशाना भी नहीं।💔💞


जीना चाहता हूँ मगर जिंदगी रास नहीं आती, मरना चाहता हूँ मगर मौत पास नहीं आती, उदास हूं इस जिन्दगी से, क्योंकि उसकी यादें भी तो तड़पाने से बाज नहीं आती।

दर्द भरी शायरी फोटो


चाँद के बिना अँधेरी रात रह जाती है साथ कुछ हसीन मुलाकात रह जाती है, सच है जिंदगी कभी रूकती नहीं, बस वक्त निकल जाता है और याद रह जाती है।


वो कहते हैं कि सोच लेना था तुमको मोहब्बत करने से पहले... अब हम उनको हम क्या बताएं कि, सोच कर साजिश की जाती है मोहब्बत नहीं।

सबसे दर्द भरी शायरी


प्यार उसको मिलता है जिसकी तकदीर होती है, बहुत कम हाथों में ये लकीर होती है, कभी जुदा ना हो प्यार किसी का, खुदा कसम बहुत तकलीफ होती है।


उसकी चाहत से इकरार ना करते, उसकी कसमों पे ऐतबार ना करते, पता होता अगर वो हमें छोड़ के चले जाएंगे एक दिन, तो हद से ज्यादा हम उसको प्यार ना करते।


वो न मिला तो क्या हुआ ये इश्क था हवस नहीं.... मैं उन्हीं का था, मैं उन्हीं का हूं वो मेरा नहीं तो न सही।

दर्द भरी शायरी डाउनलोड


काफी अरसे बाद उसकी जुबां से अपना नाम सुन कर लगा, शायद वो फिर से आ गई मेरी ज़िन्दगी में, पर मुझे पता बाद में चला कि नाम तो उसने मेरा ही लिया था ,पर किसी दूसरे शख्स के लिए।


चुपके से सामने आ जाते हो तुम, आंखें खुलते ही गायब हो जाते हो तुम, मैं तो तुम्हें दिन-रात याद करता रहता हूं, और यहां पल भर में ही मुझे भूल जाते है तुम।


तुम बिन अब हम खुश रहते हैं.. तुम्हारे ख्यालों में अब न खोया करते हैं, जो तूने मेरे साथ किया ऐसा न हो किसी के साथ दोबारा, भगवान से बस यही दुआ हम करते रहते हैं।

Dard Bhari Shayari


ज़रूरी नहीं है कि हमेशा बुरे कर्मों की वजह से ही दर्द सहने को मिले। कई बार हद से ज़्यादा अच्छे होने की भी क़ीमत चुकानी पड़ती है।


तुझे तो फुर्सत ही नहीं मिलती, मेरे किसी मेसेज को पढ़ने की... और एक हम ठहरे, जो तुम्हारे पुराने ही मेसेज देख कर तुझे याद कर लेते हैं। 😞😞😞😒


आंसू हैं आंखों में पर बह नहीं सकते, दुनिया वालों से डरते हैं इसलिए कुछ कह नहीं सकते, पर ये तो आप भी समझते ही होंगें, कि हम आपके बिना रह नहीं सकते।

दर्द भरी शायरी फोटो डाउनलोड

दर्द भरी शायरी फोटो डाउनलोड

सुना है इश्क़ तो बेताश बादशाह है तकलीफों का, ओर इस दिल की छोटी सी ज़िद है की, उनको ना मिल कोई तकलीफ इस वजह से, हमने खुद को तन्हा कर लिया।


तेरे ना होने से जिंदगी में, बस इतनी सी कमी रहती है, मैं लाख मुस्कराऊँ फिर भी, इन आँखों में नमी सी रहती है।

Post a Comment